किसान की घडी-Inspirational Hindi Story

0
3972
Loading...

Inspirational Hindi Story(किसान की घडी):एक बार किसी एक किसान की घडी खो गयी।वैसे घडी कीमती तो नहीं थी पर किसान उस घड़ी से भावनात्मक रूप से जुड़ा हुआ था।इसलिए उस घडी को किसी भी हालात में वापस चाहता था।

वह उस घडी को खोजने में लगा हुआ था।कभी कमरे में खोजता तो कभी बाड़े में खोजता तो कभी गेहुओ की बोरी में पर तमाम कोशिस के बावजूद घड़ी नहीं मिली।अब उसने निश्चय किया कि वह इस काम में बचो की मदद लेगा।

किसान की घडी-Inspirational Hindi Story
किसान की घडी-Inspirational Hindi Story

उसने बचो को अपने पास बुलाया और बोला “बचो मेरी घडी कही गुम गयी हैं,अगर तुम में से कोई भी उस घडी को ढूंढ लाया तो उसे में 100 रुपए दूंगा।”

फिर क्या था बच्चे जल्दी से इस काम में जोरो-शोर से लग गये।वो हर जगह की खाक छानने लगे,आंगन में,हर एक कमरे में,ऊपर,निचे,अंदर,बहार…पर अंततः घंटो बीत जाने पर घडी नहीं मिली।

कुछ ही देर में बचो ने हार मान ली और किसान को भी यह लगने लगा कि अब घडी नहीं मिलने वाली।तभी एक बच्चा दौड़ता हुवा किसान के पास आया और बोला ‘चाचा जी मुझे एक मौका दीजिये पर इस बार में अकेला ही घडी खोजने जाऊँगा।

Loading...

किसान का क्या जा रहा था उसने झट से हाँ कर दी।

अब वह बच्चा घडी ढूंढने में लग गया।वह हर एक कमरे में गया और कुछ ही पल में उसने घडी ढूंढ डाली।और जाके उस किसान के हाथ में धर दिया।

यह देख किसान बड़ा प्रसन्न हुआ।और बड़े ही आश्चर्य से पूछा “बेटा।तुमहे यह घडी कहा से मिली।जब सभी बचो ने हर मन ली थी और मुझे भी लगने लगा था कि घडी नहीं मिलने वाली पर तुम्हे कहा से मिल गयी ये घडी।”

लड़का बोला ” काका मैंने कुछ नहीं किया।में तो बस हर एक कमरे में गया और चुप चाप बेठ गया।कमरे में जब शांति हुयी तब घड़ो की आवाज सुनाई देने लगी।मेरे घडी के आवाज़ से उसकी दिशा का अंदाजा लगाया और आखिर कार यह घडी एक अलमारी के पीछे गिरी हुई मिली।”

Loading...

दोस्तों,जिस तरह कमरे की शांति घड़ी ढूंढने में मददगार साबित हुई उसी तरह हमारे मन की शान्ति हमें life के जरुरी चीजें समझने में मददरूप होती है।daily हमें खुद के लिए वक़्त निकालना चाहिये।जहा हम अकेले हो और जहा हम अकेले बेठ के खुद से बातें कर सके और अपने भीतर को आवाज को सुन सके।तभी हम life को अच्छे ढंग से जी पाएंगे।

 

youtube

Also read This Srories:

  1. Beti Bachao Beti Padhao Hindi Kahani
  2. में एसा क्यों हूँ.
  3. धक्का 
  4. आखरी प्रयास 

Inspirational Hindi Story

दोस्तों अगर आपके पास भी प्रेरनादायी कोई कहानी है जो लगो के लिए useful हो सकती है तो हमें वह कहानी ईमेल करे हम आपके फोटो और नाम क साथ हम यहाँ पब्लिश करेंगे.अगर आपकी कोई वेबसाइट है तो उसे भी हमे send करे हम आपकी वेबसाइट को भी यहाँ पब्लिश करेंगे.और अगर आपकी कहानी लोगो क लिए उपयोगी रही तो हमारी तरफ से आपको पुरस्कार भी दिया जायेगा.

हमारा ईमेल है:contact@imsstories.com

Loading...

Leave a Reply